Women’s T20 World Cup के फाइनल में पांचवीं बार ऑस्टेलिया ने मारी बाजी, भारत को 85 रन से हराया

खेल दुनिया देश

India vs Australia ICC Women’s T20 World Cup 2020 Final Match: भारत और मेजबान ऑस्ट्रेलिया के बीच मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड(MCG) में आइसीसी महिला टी20 विश्व कप 2020 का फाइनल मुकाबला खेला गया, जिसमें ऑस्ट्रेलिया ने बाजी मारी। भारतीय टीम को खिताबी मुकाबले में 85 रन से हार का सामना करना पड़ा।

इस मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तान मेग लैनिंग ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। इस तरह निर्धारित 20 ओवर में ऑस्ट्रेलिया ने 4 विकेट खोकर 184 रन बनाए। कंगारू टीम की ओर से ओपनर बेथ मूनी ने नाबाद 78 रन की पारी खेली, जबकि विकेटकीपर बल्लेबाज एलिसा हीली 75 रन बनाकर आउट हुईं। भारत की ओर से दीप्ति शर्मा को दो विकेट मिले।

185 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 19.1 ओवर में 99 रन पर ढेर हो गई.

भारतीय पारी, गिरा पांचवां विकेट

भारतीय टीम को पहला झटका विस्फोटक ओपनर शेफाली वर्मा के रूप में लगा। मेगन स्कट की गेंद पर एलिसा हीली ने विकेट के पीछे शेफाली को कैच किया। वहीं, तानिया भाटिया बल्लेबाजी करने उतरी, लेकिन हेल्मेट पर गेंद लगी और उनके बाहर जाना पड़ा। भारत को दूसरा झटका जेमिमा रॉड्रिग्स के रूप में लगा जो बिना खाता खोले जोनसेन का शिकार बनीं।

पहली बार फाइनल मुकाबले में उतरी टीम इंडिया को तीसरा झटका स्मृति मंधाना के रूप में लगा जो 8 गेंदों में 11 रन बनाकर मोलिनेक्स का शिकार बनीं। भारतीय टीम की आखिरी उम्मीद के रूप में कप्तान हरमनप्रीत कौर आउट हुईं जो 7 गेंदों में 4 रन बनाकर आउट हुईं। टीम को पांचवां झटका वेदा कृष्णमूर्ति के रूप में लगा जो 24 गेंदों में 19 रन बनाकर डेलिसा का शिकार बनीं।

India vs Australia Womens T20 World Cup final Match Scorecard

ऑस्ट्रेलिया की पारी, हीली और मूनी का अर्धशतक 

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए पारी की शुरुआत एलिसा हीली और बेथ मूनी ने की। दोनों ने 6 ओवर के पावरप्ले में बिना विकेट खोए 49 रन बटोरे। ओपनर एलिसा हीली ने आतिशी बल्लेबाजी करते हुए 30 गेंद पर अपना अर्धशतक पूरा किया। इस दौरान उन्होंने 7 चौका और दो छक्का लगाया। भारत को पहला विकेट राधा यादव ने दिलाया। 39 गेंद पर 75 नर बनाने वाली एलिसा हीली को वेदा कृष्णामूर्ति ने कैच किया। पहले विकेट के लिए एलिसा ने मूनी के साथ मिलकर 115 रन की साझेदारी निभाई।

ऑस्ट्रेलिया की दोनों ही ओपनर ने फाइनल मुकाबले में अर्धशतकीय पारी खेली। एलिसा हीली ने पहले 33 गेंद पर अर्धशतक जमाया इसके बाद बेथ मूनी ने 41 गेंद पर 6 चौके की मदद से अपना अर्धशतक पूरा किया। उधर, दूसरे विकेट के रूप में कप्तान मैग लैनिंग आउट हुईं जो 15 रन बनाकर दीप्ति शर्मा का शिकार बनीं। टीम को तीसरा झटका दीप्ति शर्मा ने दिया। दीप्ति ने एश्ले गार्डनर को फंसाया और 2 रन पर तान्या के हाथों स्टंप्स आउट कराया।

मेजबान टीम को चौथा झटका रेशल हेन्स के रूप में लगा जो पूनम यादव की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गईं। हेन्स 4 रन बनाकर आउट हुईं। वहीं, बेथ मूनी 54 गेंदों में 10 चौकों की मदद से 78 रन बनाकर नाबाद लौटीं, जबकि निकोला कैरी 5 रन बनाकर नाबाद रहीं। भारत के लिए दीप्ति शर्मा ने 2 विकेट, जबकि पूनम यादव और राधा यादव ने 1-1 विकेट चटकाया।

भारत की प्लेइंग इलेवन 

शेफाली वर्मा, स्मृति मंधाना, हरमनप्रीत कौर(कप्तान), जेमिमा रॉड्रिग्स, दीप्ति शर्मा, तान्या भाटिया(विकेटकीपर), वेदा कृष्णमूर्ति,  शिखा पांडे, पूनम यादव, राधा यादव और राजेश्वरी गायकवाड़।

ऑस्ट्रेलिया की प्लेइंग इलेवन

बेथ मूनी, एलिसा हीली (विकेटकीपर), मेग लैनिंग (कप्तान), जेस जोनसेन, एश्ले गार्डनर, रशेल हेन्स, निकोला कैरी, डेलिसा किमिंसी, सोफी मोलिनेक्स, जॉर्जिया वरहम और मेगन स्कट।

चार बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलियाई टीम के सामने भारतीय टीम पहली बार टी20 विश्व कप का खिताब जीतने के इरादे से उतरेगी। मेजबान ऑस्ट्रेलिया अपनी सरजमीं पर मजबूत जरूर है, लेकिन आगाज मैच में भारतीय टीम ने कंगारू टीम को हराकर उसके हिम्मत को तोड़ रखा है। ऐसे में यहां मुकाबला कड़ी टक्कर वाला होने वाली है। करीब एक लाख दर्शकों के बीच दो मजबूत टीमें फाइनल में पहुंची हैं। ऐसे में विश्व महिला दिवस का ये दिन काफी खास होने वाला है।

पहली बार फाइनल में भारत

भारतीय महिला टीम पहली बार टी20 विश्व कप के फाइनल में पहुंची है। इससे पहले खेले गए 6 टी20 विश्व कप में भारतीय टीम सिर्फ सेमीफाइनल तक का सफर तय कर पाई थी। वहीं, ऑस्ट्रेलियाई टीम छठी बार फाइनल मुकाबला खेलने उतरेगी। कंगारू टीम ने अब तक चार बार आइसीसी वुमेंस टी20 वर्ल्ड कप जीता है और मौजूदा चैंपियन भी ऑस्ट्रेलियाई टीम ही है।

बिना सेमीफाइनल खेले फाइनल में पहुंची भारतीय टीम

बता दें कि भारतीय टीम बिना सेमीफाइनल खेले फाइनल में पहुंची है, जबकि ऑस्ट्रेलिया ने साउथ अफ्रीका को करीबी मुकाबले में मात देकर फाइनल में जगह बनाई थी। भारतीय टीम ने करीब एक सप्ताह से एक भी मैच नहीं खेला है। ऐसे में यहां भारत के लिए मुश्किल खड़ी हो सकती है। हालांकि, हरमनप्रीत कौर की कप्तानी वाली भारतीय टीम हर परिस्थिति से गुजरने के लिए तैयार है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *