Posted on February 3, 2020 8:20 pm

राजधानी दिल्‍ली में चार लोगों में दिखे कोरोना वायरस के लक्षण, एम्‍स में जांच के लिए भेजे गए नमूने

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में कोरोना वायरस जैसे मिलते जुलते लक्षण देखे जाने के बाद पांच मरीजों को दिल्‍ली कैंट बेस अस्‍पताल में भर्ती किया गया है। इन मरीजों को खांसी और जुकाम के लक्षण दिखने के बाद बेहतर इलाज के लिए मानेसर के क्वारंटाइन फैसिलिटी (Quarantine Facility Manesar) से बेस अस्पताल जाया गया है। समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, इनके ब्लड सेंपलों को जांच के लिए एम्‍स भेजा गया था। एक मरीज की रिपोर्ट निगेटिव आई है जबकि चार अन्‍य की रिपोर्ट का इंतजार है।

इधर, केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के चलते पैदा हुए हालात पर नजर रखने के लिए एक टास्‍क फोर्स गठित की है। इसमें स्वास्थ्य, गृह, नागरिक विमानन और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के प्रतिनिधि शामिल होंगे। समाचार एजेंसी पीटीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक, केरल में कोरोना वायरस का तीसरा मामला सामने आने के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है। केंद्रीय मंत्री जी. किशन रेड्डी ने यह जानकारी दी है। उन्‍होंने बताया कि यह टास्‍क फोर्स उन सभी एहतियाती कदमों पर गौर करेगी जो वायरस को फैलने से रोकने के लिए उठाए जा सकते हैं।

मालूम हो कि भारत ने अपने नागरिकों को चीन से निकालना शुरू कर दिया है। यही नहीं चीन से आने वाले लोगों के इलाज के लिए व्‍यापक रूप से तैयारियां की गई हैं। भारतीय सेना ने भी चीन से आने वाले भारतीयों की जांच एवं उनकी देखभाल के लिए तैयारी की है। आईटीबीपी ने संक्रमित भारतीयों को मरीजों को बुनियादी चिकित्सा सेवा मुहैया करने के लिए दिल्ली में 600 बिस्तरों वाला अलग केंद्र तैयार किया है। दक्षिण पश्चिम दिल्ली के छावला इलाके में भारत तिब्बत सीमा पुलिस के कैंप में के 600 बिस्तरों वाले केंद्र में डॉक्टरों की एक टीम मौजूद तैनात है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed