Posted on November 22, 2019 2:25 pm

मुंबई में जारी है कांग्रेस-एनसीपी और अन्य सहयोगी पार्टियों की बैठक

महाराष्ट्र में सरकार गठन की चर्चाओं के बीच कांग्रेस नेता मानिकराव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा है कि महाराष्ट्र में अगला मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा, उन्होंने कहा कि राज्य स्तरीय बैठक में एनसीपी ने किसी शीर्ष पद की कोई मांग नहीं की है। उन्होंने साफ किया कि एनसीपी ने ऐसी कोई मांग कभी नहीं उठाई। समाचार एजेंसी एएनआइ ने इसकी जानकार दी है।

शिवसेना के नेताओं की बैठक

महाराष्ट्र में सरकार गठन की प्रक्रिया में तेजी को देखते हुए उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को अपनी पार्टी के विधायकों से मुलाकात की और राज्य में राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की। शिवसेना के विधायक भास्कर जाधव ने पीटीआई को बताया कि इस बैठक में विधायकों को सरकार गठन प्रक्रिया और कांग्रेस-राकांपा नेताओं की दिल्ली में हुई बैठकों से अवगत कराया गया। बता दें, बीती रात ठाकरे ने मुंबई में राकांपा अध्यक्ष शरद पवार से मुलाकात की। जाधव ने कहा कि ठाकरे जो भी फैसला लेंगे शिवसेना के सभी विधायकों को यह मानना होगा।

मुंबई में आज शाम 4 बजे शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन सरकार बनाने को लेकर तीनों दलों के बड़े नेताओं की बैठक होगी। इस बैठक के बाद माना जा रहा है कि शनिवार को गठबंधन के नेता राज्यसभा से मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाने का दावा पेश कर सकते हैं।

लीलावती अस्पताल पहुंचे राउत

महाराष्ट्र में सरकार गठन पर चर्चा के बीच संजय राउत लीलावती अस्पताल पहुंचे हैं। उन्होंने यहां रूटीन चेकअप कराया है।संजय राउत की इस महीने की शुरुआत में एक एंजियोप्लास्टी हुई। इसको लेकर वह आज रूटीन जांच कराने के लिए पहुंचे।

‘पूरे 5 साल शिवसेना का ही मुख्यमंत्री’

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जारी गहमागहमी के बीच शिवसेना सांसद संजय राउत ने एक बड़ा बयान दिया है। संजय राउत ने कहा है कि पूरे पांच साल तक महाराष्ट्र में शिवसेना का ही मुख्यमंत्री होगा। संजय राउत के इस बयान से महाराष्ट्र की सियासत में और भूचाल आने की संभावना है। महाराष्ट्र में माना जा रहा है कि सीएम पद को लेकर शिवसेना और एनसीपी के बीच 50:50 फार्मूले पर बातचीत तय हुई है।

मुख्यमंत्री पद की दौड़ पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र के लोग और शिवसैनिक चाहते हैं कि पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे राज्य के मुख्यमंत्री बनें।

दरअसल, शिवसेना सांसद संजय राउत से जब पूछा गया कि अगर शरद पवार महाराष्ट्र के सीएम पद के लिए उनका नाम सुझाते हैं तो इसपर उन्होंने कहा कि यह गलत है। महाराष्ट्र के लोग उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं।

ढाई-ढाई साल के मुख्यमंत्री

अभी कांग्रेस और एनसीपी नेताओं की ओर से सरकार के प्रारूप पर कोई जानकारी नहीं दी गई है, लेकिन माना जा रहा है कि सीएम पद पर 50:50 फार्मूला लागू होगा। यानी पहले ढाई साल शिवसेना का मुख्यमंत्री होगा और बाकी के ढाई साल राकांपा का। उपमुख्यमंत्री पद पूरे पांच साल कांग्रेस के पास रहेगा। मंत्री पद में संख्या बल के हिसाब से हिस्सेदारी होगी और अहम मंत्रलयों में भी तीनों दलों का प्रतिनिधित्व होगा। सरकार के लिए साझा कार्यक्रम तैयार होगा और समन्वय के लिए भी व्यवस्था तैयार की जा सकती है, ताकि विवाद की स्थिति न खड़ी हो।

आज आखिरी राउंड की बातचीत

कांग्रेस और एनसीपी के नेताओं के बीच आज आखिरी राउंड की बातचीत होगी। माना जा रहा है इस बैठक में गठबंधन को लेकर अंतिम खाका खींचा जाएगा और उनके रोल को लेकर भी चर्चा इस बैठक हो सकती है।कांग्रेस-एनसीपी के बीच यह बैठक दोपहर करीब 12 बजे होगी। इसके बाद करीब शाम 4 बजे शिवसेना के साथ एनसीपी-कांग्रेस की मुलाकात होने वाली है। इसके बाद आज शाम को ही महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर यह गठबंधन राज्यपाल से मुलाकात कर सकता है।

एनसीपी-कांग्रेस के अलावा कई छोटे दल भी इस महागठबंधन का हिस्सा होंगे, जिसमें स्वाभिमान शेतकारी संगठन, पीजेंट एंड वर्कर्स पार्टी ऑफ इंडिया, समाजवादी पार्टी भी शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed