मायावती ने दिल्ली हिंसा की तुलना 1984 के सिख दंगों से की

Uncategorized ताजा खबरें देश

लखनऊ: बसपा सुप्रीमों मायावती ने दिल्ली हिंसा को लेकर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को पत्र लिखा है। जिसमें उन्होंने दिल्ली हिंसा की तुलना 1984 के सिख दंगों से की हैं। मायावती ने पत्र में लिखा है कि एक बार फिर घातक दंगों से दिल्ली दहल गई। दिल्ली का हादसा दुनिया भर में नकारात्मक चर्चा का विषय बना हुआ है। दिल्ली व केंद्र सरकार की इस मामले पर विशेष जिम्मेदारी बनती है। भाजपा को न तो कोई ऐसा काम करना चाहिए और न ही पार्टी के लोग किसी तरह का उग्र बयान दें, जिससे देश में अराजकता का माहौल बने।

मायावती ने पत्र में लिखा है कि भाजपा व इसकी सरकार अपने कानूनी संवैधानिक जिम्मेदारियों को निभाने में काफी हद तक विफल रही। जिसके चलते दिल्ली में अब तक 3 दर्जन से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और 200 लोग घायल हैं। आगे उन्होंने लिखा कि दिल्ली दंगों के पीछे पुलिस प्रशासन की भी कोताही जगजाहिर है। मायावती ने राष्ट्रपति से मांग की कि दिल्ली में हुए दंगो में जिन लोगों को जान-माल का नुकसान हुआ, उन्हें सहायता प्रदान की जाए। केंद्र और दिल्ली सरकार को आप निर्देशित करें, ताकि दंगा पीड़ितों को दर-दर भटकने की नौबत न आए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *